�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Saturday, July 11, 2020

ड्यूटी में कोताही बरतने के कारण सस्पेंड हुए डॉ. शिवचरण : तिवारी

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज और गुरु नानकदेव अस्पताल (जीएनडीएच) के मेडिसिन विभाग के प्रमुख डॉ. शिवचरण को ड्यूटी में कोताही बरतने की वजह से सस्पेंड किया गया है। मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च महकमे के प्रमुख सचिव डीके तिवारी की ओर से जारी लैटर के अनुसार, डॉ. शिवचरण को कोरोना महामारी के दौरान गुरु नानकदेव अस्पताल का नोडल अधिकारी बनाया गया।

यह अहम जिम्मेदारी थी मगर उन्होंने इसे संजीदगी से नहीं निभाया। डॉ. शिवचरण ने उच्चाधिकारियों से तालमेल नहीं रखा। कोरोना से होने वाली मौतों को रोकने के लिए कोई कारगर योजना तैयार नहीं की और न ही रेजिडेंट्स डॉक्टर और असिस्टेंट प्रोफेसर की आइसोलेशन वार्ड में ‘राउंड द क्लॉक’ ड्यूटियां लगाईं।
डीके तिवारी के लैटर के मुताबिक सरकार ने डॉ. शिवचरण को एपिडेमिक डिजीज एक्ट-1897 और डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट-2005 के तहत कोविड के संबंध में जारी गाइडलाइन का पालन नहीं करने पर 18 अप्रैल को शोकॉज नोटिस जारी किया था, मगर उन्होंने इस बाबत अपना पक्ष रखना जरूरी नहीं समझा, जो गंभीर अनुशासनहीनता है। इसी वजह से उन्हें सस्पेंड किया गया है।
जानकारी के लिए बताते चलें कि घटिया पीपीई किटों का मामला डॉ. शिवचरण ने ही उठाया था और उन्होंने इनकी खरीद में घोटाले की आशंका जताई थी। उसके बाद से ही वह निशाने पर चल रहे थे। 1 जुलाई को उनका तबादला पटियाला कर दिया गया था मगर उन्होंने हाईकोर्ट से स्टे ले लिया। इसके बाद 10 जुलाई को विभाग ने उन्हें सस्पेंड कर दिया। इस संदर्भ में जब डॉ. शिवचरण से संपर्क किया गया तो उन्होंने किसी तरह की टिप्पणी से इनकार कर दिया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/329UClO

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages