�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Sunday, August 30, 2020

लाखों रुपए पानी में... मुरता में पेयजल संकट

ब्लॉक के ग्राम पंचायत मुरता में पेयजल व्यवस्था के नाम पर लाखों रुपए खर्च करने के बावजूद ग्रामीणों को पेयजल को लेकर परेशान होना पड़ रहा है। गांव के वार्ड क्रमांक 1 से 6 में निवास करने वाले ग्रामीणों को पेयजल के लिए वार्ड क्रमांक 4 जीतराम दुकान के पास स्थित मोटर पम्प का सहारा लेना पड़ रहा है। यही नहीं बाजार पारा व चौहान पारा के भी यही हालात हैं।

वार्ड 4 के सार्वजनिक मोटर पम्प का स्टार्टर खुले आसमान के नीचे पड़ा है, जो आए दिन बारिश के पानी में भीग रहा है। ऐसे में पम्प स्टार्ट करने के दौरान पानी भरने आए ग्रामीणों को करंट लगने का खतरा बना रहता है। वार्ड 1 से 6 तक में निवास करने वाले स्थानीय लोग खतरा मोल लेते हुए पानी भरने को मजबूर हैं। मुरता के सरपंच हेमंत कुमार साहू ने बताया कि बैकुंठपारा के मोटर पम्प में स्टार्टर को सुरक्षित रखने के लिए बॉक्स बनाने कहा गया है। जल्द ही स्टार्टर को बॉक्स में कवर किया जाएगा।

17 लाख रुपए खर्च के बाद भी यह हालात

ग्राम मुरता के बाजार चौक स्थित सेवा केन्द्र के नागरिक सूचना पटल के अनुसार साल 2019 में 17 लाख रुपए पेयजल व्यवस्था दुरुस्त करने में खर्च किया गया। इसमें 12 लाख रुपए पेयजल व्यवस्था, 2 लाख रुपए 5 नग बोर खनन, 3 लाख रुपए पुनः पेयजल व्यवस्था के नाम पर 14वें वित्त मद से राशि का आहरण किया गया। ऐसे में बड़ा सवाल यह उठता है कि 17 लाख रुपए खर्च होने के बाद भी पेयजल की व्यवस्था नहीं बनाई जा सकी है। ग्रामीणों ने कहा कि इतनी बड़ी राशि खर्च होने के बावजूद पीने योग्य पानी के लिए वार्ड क्रमांक 4 स्थित मोटर पम्प में आश्रित होना दुर्भाग्यपूर्ण है।

गांव में 24 से अधिक हैंडपंप इनमें आधे से ज्यादा खराब

ग्राम पंचायत मुरता के कार्यालयीन रजिस्टर में सार्वजनिक हैंड पंपों की संख्या 24 से अधिक दर्ज हैं। जबकि इनमें गिनती के हैंड पम्प ही उपयोग में लाए जाने योग्य हैं। ज्यादातर सार्वजनिक हैंड पम्प या तो खराब हो चुके हैं या अतिक्रमण के भेंट चढ़ चुके हैं, जिसका खामियाजा गांव की आधी आबादी को भुगतना पड़ रहा है। समय रहते गांव के अलग-अलग हैंड पंपों के मरम्मत व रखरखाव के लिए पंचायत द्वारा ध्यान रखा जाता, तो ग्राम मुरता में पेयजल व्यवस्था की तस्वीर कुछ और होती। लाखों खर्च करने के बावजूद पेयजल की व्यवस्था बदहाल है और ग्रामीणों ने इस व्यवस्था को सुधारने की मांग की है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
नवागढ़. वार्ड 4 के इस मोटर पंप का स्टार्टर इस तरह खुला हुआ है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3lBHv4a

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages