�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Thursday, September 10, 2020

जिले में हर साल होते थे 70 कबड्‌डी टूर्नामेंट, कोरोना के कारण एक भी नहीं हुआ

कोविड के कारण लगभग सभी क्षेत्रों पर मंदी के बादल मंडरा रहे हैं और इसी कारण पंजाब में खेल टूर्नामेंट भी बंद पड़े हैं। इस कारण कबड्डी से जुड़े खिलाड़ी इस समय आर्थिक मंदहाली का शिकार हो रहे हैं।
प्रदेश भर में जुलाई महीने से कबड्डी के टूर्नामेंट शुरू हो जाते थे, जो मार्च-अप्रैल महीने तक लगातार राज्य के गांवों-गांवों में करवाए जाते हैं और प्रबंधक कमेटियों की तरफ से एक टूर्नामेंट पर 3 से लेकर 4 लाख रुपए तक खर्च किया जाता रहा है। इसमें से 80 फीसदी रुपए टूर्नामेंट में शामिल होने वाले खिलाड़ियों को इनाम के रूप में मिलते रहे हैं।

होशियारपुर जिले में हर साल (कोविड आने से पहले) 70 के लगभग कबड्डी टूर्नामेंट अलग-अलग गांवों में होते रहे हैं, जिनमें होशियारपुर जिले में ही ढाई से तीन करोड़ रुपए तक खर्च कर देते रहे हैं, लेकिन इस साल यह टूर्नामेंट कोविड की वजह से अब तक शुरू नहीं हो पाए और न ही जल्द शुरू होने की कोई संभावना दिखाई दे रही है। टूर्नामेंट शुरू न होने से वह खिलाड़ी आर्थिक मंदहाली से गुजर रहे हैं, जिनके घर का खर्च टूर्नामेंट से जीते इनाम से चल रहा था, खिलाड़ियों के साथ-साथ कमेंटेटर भी घरों में बैठे हैं।
सुपर स्टार खिलाड़ी ग्राउंड से हो रहे दूर : जिले के गांव सांधरां, काहरी साहरी, कोठे जट्टां, शामचौरासी आदि में कब्बडी के सुपर स्टार खिलाड़ी रहते हैं।
गांव सांधरा की खेल ग्राउंड में अलग-अलग कबड्डी एकेडमियों से संबंधित खिलाड़ियों जिनमें सिमरन सांधरा, दीपा सांधरा जो चढदी कला खेल अकेडमी जालंधर, लव-कुश बाबा सुखचैन दास कबड्डी क्लब फगवाड़ा, बबलू शाहकोट लायंस समेत करण, जस्सा, मौजू, सुक्खी आदि खिलाड़ी अन्य खेल एकेडमियों के साथ जुड़े है।

उन्होंने बताया कि टूर्नामेंट बंद होने से खिलाड़ी ग्राउंड से दूर हो रहे हैं, क्योंकि जिन खिलाड़ियों के परिवारों का खर्च ही यहां से चलता था वह आर्थिक मंदहाली में है और कई ने तो काम सीखने शुरू कर दिए हैं। यह खिलाड़ी हर साल विदेशों में होने वाले टूर्नामेंट में भी भाग लेने जाते रहे हैं और होशियारपुर में 50 के लगभग खिलाड़ी एकेडमियों से जुड़े हुए हैं।

खिलाड़ियों ने बताया कि जो भी खिलाड़ी इस समय एकेडमियों के साथ जुड़े हुए हैं उन्हें अपनी डाइट का भी ख्याल रखना पड़ता है और मौजूदा समय में खिलाड़ी अपनी डाइट के लिए भी अपने परिवारों और दोस्तों पर निर्भर है।

कबड्डी टूर्नामेंट जल्द शुरू करवाए सरकार : कोच
कबड्डी के कोच परमजीत सिंह फौजी और हरविंदर सिंह रैंक जंडी ने पंजाब सरकार से मांग की है कि जिस तरह अलग-अलग क्षेत्रों में सरकार ने रियायत देकर काम शुरू करवाए हैं और जिम भी खुलवा दिए हैं इसी तरह किसी पालिसी के तहत कबड्डी टूर्नामेंट शुरू करने की इजाजत भी सरकार को देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि खेल के माध्यम से खिलाड़ी स्वस्थ्य रहते हैं। साथ ही कमाई का जरिया भी बना रहता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
There were 70 kabaddi tournaments held every year in the district, due to Corona there was not a single one


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2RbF1LG

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages