�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Friday, September 18, 2020

भिंडी बनाने से मना करने पर पति ने मारा थप्पड़, साढ़ू और सालों ने पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया

प्रीत नगर निवासी 20 साल के युवक को उसके साढू ने पेट्रोल डालकर जला दिया। पीड़ित का शरीर 50 फीसदी तक झुलस गया। उसे राजिंदरा में दाखिल कराया गया है। जांच में लगी त्रिपड़ी पुलिस ने आरोपी साढू महेश कुमार निवासी सरहिंद रोड के खिलाफ केस दर्ज किया। पीड़ित रणजीत कुमार निवासी प्रीत नगर ने बताया कि उसकी पत्नी 13 सितंबर को मायके से वापस आई थी।

शाम काे खाना बनाने काे कहा ताे उसने दाल की जगह भिंडी बनाने की बात कही। वह सब्जी लेकर घर आ गया। उसकी पत्नी से सब्जी बनाने से मना किया ताे उसने गुस्से में उसे थप्पड़ मार दिया। उनकी अभी बहस हाे रही थी कि साढू घर आ गया। उसने उससे मारपीट की और पत्नी काे साथ ले गया। जब वह पत्नी काे लेने गया ताे आराेपी ने उससे मारपीट की। तेजधार वस्तु से उस पर हमला किया।

वहां से रात करीब 11 बजे वह आ गया। राजिंदरा पहुंचकर उसने इलाज कराया। वहां उसके हाथ पर 5 टांके लगाए गए। रात साढ़े 3 और 4 बजे इलाज कराकर जब वह घर जा रहा था ताे उसका साढू उसे फिर घर के पास मिल गया। उसे रात की बात भुलाने की बात कहकर बाइक पर बैठाकर घर ले गया। वहां ले जाकर आराेपी उसकी पत्नी, साढू और दाे सालाें ने मिलकर उससे मारपीट की।

आराेप लगाया कि तेल डालकर आग लगा दी। वहां से वह भागकर निकला। उसके बाद उसे पता नहीं कि किसने अस्पताल पहुंचाया।रणजीत कुमार ने बताया कि उसकी लव मैरिज है।

अक्टूबर में पत्नी काे लेकर मुंबई चला गया था। मार्च में काेराेना के कारण वापस पटियाला लाैट आया। उसके बाद से ही ससुराल परिवार के लाेग उससे मेल मिलाप करने लगे। कुछ दिन से पत्नी अपनी बहन व जीजा की बाताें में आकर उससे छाेटी छाेटी बात पर झगड़ा करती थी।

इलाज के लिए भी नहीं थे रुपए, क्लब ने की मदद
अस्पताल में दाखिल पीड़ित रणजीत का इलाज कराने के लिए उसके पैसे नहीं है। उसका एक दाेस्त उसके साथ दिन रात देखभाल में लगा है। उसने साेशल मीडिया पर मदद के लिए गुहार लगाई थी। उसके बाद शहर में बेसहारा मरीजाें की सेवा कर रही ह्यूमन वेलफेयर क्लब ने पीड़ित का इलाज कराने का जिम्मा उठाया है।

शरीर झुलसने से नहीं मिल रही थीं नसें तो पैर में लगाई ड्रिप

जानकारी के मुताबिक रणजीत सिंह के शरीर का तकरीबन सभी हिस्सा झुलस चुका है। उसकी काेई नस नहीं मिल रही थी। उसे दवा देने में परेशानी न हाे इसलिए डाॅक्टराें ने पैर से इलाज शुरू किया था। जब 14 काे रणजीत सिंह अस्पताल में दाखिल हुआ था, तब डाॅक्टराें ने पैर पर कट लगाकर उसकाे ड्रिप लगाई थी। साथ ही हाथ पर ड्रिप वीरवार काे ड्रिप लगाई गई है।

सब पर हो कार्रवाई

पीड़ित रणजीत ने बताया कि पुलिस ने साढू के खिलाफ ताे केस दर्ज कर लिया है जबकि उसकी पत्नी व दाे सालाें के खिलाफ कार्रवाई हाेनी चाहिए। आरोपियोंं के दखल के चलते यह नौबत आई है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Husband slapped for refusing to make lady finger, wife beaten up with brothers-in-law, burnt oil


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/32J1bvh

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages