�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Monday, October 19, 2020

प्रार्थना सभा हुई न लंच ब्रेक, नियमों का किया गया पालन, 3 घंटे तक लगीं बच्चों की क्लासें

फाजिल्का में मार्च में स्‍कूल बंद होने के बाद 19 अक्टूबर से स्कूल खोले गए हैं। कोरोना संक्रमण के चलते पहले दिन बच्चे भी कुछ डरे हुए नजर आए। गेट पर स्क्रीनिंग और सैनिटाइज करने के बाद प्रवेश करने दिया गया। इस दौरान न प्रार्थना सभा और न लंच ब्रेक हुआ। कोरोना वायरस संक्रमण ने जीवन बदल डाला है। जिस स्कूल के गेट पर पहले घुसने और छुट्‌टी होने पर धक्का-मुक्की और शोर-शराबा रहता था। सात महीनेे के बाद जब स्कूल के गेट छुट्टी के लिए खुले तो न शोर हुआ और न ही धक्का-मुक्की। बच्चे भी कुछ डरे और सहमे से नजर आ रहे हैं। अपने ही दोस्तों से गले मिलने का मन था लेकिन मजबूरी में दूर से ही ‘हैलो’ करते नजर आए। ड्रेस जरूरी होने के साथ फेस मास्क भी अब ड्रेस का ही अभिन्न हिस्सा बन चुका है। हालांकि, फाजिल्का में पहले दिन स्कूल पहुंचे स्टूडेंट्स की संख्या उम्मीद से कम है।

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर, सैनिटाइज के बाद जाने दिया क्लास के अंदर

फाजिल्का-अबोहर रोड स्थित सर्वहितकारी स्कूल में पहले दिन पहुंचे विद्यार्थियों की थर्मल स्क्रीनिंग करने के बाद हाथ सैनिटाइज कराए गए, उसके बाद बाकायदा सोशल डिस्टेसिंग का पालन कर तीन मीटर दूरी पर गोल सर्कल बनाकर एक-एक कर छात्र-छात्राओं को अंदर प्रवेश दिया गया है। स्कूल की प्रधानाचार्य मधु शर्मा ने बताया कि जो अभिभावक पूर्व में बच्‍चों को स्‍कूल भेजने की अनुमति दे चुके हैं, वे ही छात्र-छात्राएं आज स्‍कूल पहुंचे हैं। स्कूल ने सोमवार को पहले दिन तैयारियां पूरी की और अभिभावकों की अनुमति मंगाई थी। फिलहाल तीन घंटे के लिए ही कक्षा 10वीं और 12वीं की पढ़ाई शुरू होगी। इसको लेकर स्कूलों में व्यापक तैयारियां की गई हैं।

एक सीट पर एक छात्र बैठने की व्यवस्था

सरकारी गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल के प्रिंसिपल संदीप धूड़िया ने बताया कि हर कक्षा में अधिकतम 20 से 22 विद्यार्थी, जबकि एक सीट पर एक ही विद्यार्थी के बैठने की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक रूम दिन में दो बार सैनिटाइज किया जाएगा। विद्यार्थी को बुखार या अन्य परेशानी होने पर स्कूल आने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

प्रशासन की हिदायतें
बिना अभिभावकों की अनुमति किसी को प्रवेश नहीं मिलेगा।
स्कूल गेट पर सभी विद्यार्थियों की थर्मल स्क्रीनिंग, आक्सीजन लेवल चेक किया जाएगा।
हाथ और बैग सैनिटाइज करने के बाद ही स्कूल में प्रवेश मिलेगा।
सभी को स्कूल परिसर व कक्षा में मास्क पहनना अनिवार्य होगा।
एक कक्षा में अधिकतम 20-22 विद्यार्थी ही बैठेंगे।
प्रार्थना सभा और लंच ब्रेक नहीं होगा।
बच्चे पानी की बोतल और सामान की अदला-बदली नहीं करेंगे।
सिर्फ तीन घंटे के लिए लगाई जाएंगी कक्षाएं।
स्कूल खत्म होते ही स्कूल के बाहर किसी विद्यार्थी को रुकने नहीं दिया जाएगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Prayer meeting did not take lunch break, rules were followed, children classes started for 3 hours


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/35bLBbL

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages