�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Saturday, October 17, 2020

समाजसेवी को पार्टी जाॅइन कराने आए थे अश्विनी शर्मा, कृषि कानून पर विरोध, भाजपा प्रधान को घेरने पहुंचे किसान-कांग्रेसी, धरने से तीन घंटे ट्रैफिक जाम

कृषि कानूनों को लेकर किसान जत्थेबंदियों के साथ राजनीतिक विरोध झेल रही भाजपा के बीच बढ़ते सियासी-घमासान से शनिवार को यहां जनता परेशान रही। फिरोजपुर रोड पर आरती चौक के एक होटल में दोपहर में रखे समागम में भाजपा प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा समाजसेवी एडवोकेट बिक्रम सिद्धू को पार्टी जाॅइन कराने पहुंचे तो किसान जत्थेबंदियों ने धरना लगा दिया। हालांकि पुलिस ने उनको मेन रोड के किनारे कर दिया। कुछ देर बाद ही रोष मार्च निकालते पहुंचे युवा कांग्रेसियों ने रोड के बीच धरना लगाया तो ट्रैफिक पूरी तरह जाम हो गया।

इसके चलते हाईवे पर कंस्ट्रक्शन जारी होने व ट्रैफिक दूसरे रास्तों से डायवर्ट करने के बावजूद तकरीबन तीन घंटे तक ट्रैफिक बाधित रहा। इस दौरान लोग तो परेशान हुए ही साथ में एंबुलेंस भी फंस गई। लेकिन पुलिस ने किसी तरह से एंबुलेंस को निकलवाया। गौर हो कि भाजपा प्रदेश प्रधान पर हमले की घटना के बाद उनकी सुरक्षा चाक-चौबंद की गई थी। लिहाजा शनिवार सुबह से ही पुलिस के आला अफसर बड़ी तादाद में फोर्स के साथ होटल के बाहर व आसपास फिरोजपुर रोड पर मुस्तैद थे।

युवा कांग्रेसियों की पुलिस से तीखी झड़प


कार्यक्रम शुरू होने के डेढ़ घंटे बाद किसान जत्थेबंदियों ने रघुबीर बेनीपाल, सुरिंदर सिंह, जगदीश चंद, जसवंत आदि नेताओं की अगुवाई में हाईवे के दूसरी तरफ रोष प्रदर्शन शुरू कर दिया। फिर पुलिस के रोकने के बावजूद प्रदर्शनकारी दूसरी साइड पर होटल के पास पहुंचे व समझाने पर सड़क किनारे धरना लगा प्रदर्शन करने लगे। इसके करीब आधे घंटे बाद युवा कांग्रेसी नेता लक्की सिद्धू की अगुवाई में वर्कर रोष मार्च निकालते हुए होटल की तरफ बढ़ने लगे। पुलिस ने बेरिकेडिंग लगा उनको रोका तो वहीं बीच सड़क में धरना लगाकर बैठ गए। करीब तीन घंटे के दौरान चार बार युवा कांग्रेसियों की पुलिस ने तीखी झड़प-धक्कामुक्की हुई। फिर समझाने पर वापस लौट गए।

कार्यक्रम के बाद भी होटल में रुके रहे अश्विनी
इस बीच सड़क पर पुलिस व प्रदर्शनकारियों में टकराव चलता रहा और कार्यक्रम खत्म होने के बावजूद भाजपा प्रदेश प्रधान होटल में ही रुके रहे। जबकि करीब एक घंटे तक बसें व बड़े वाहन डायवर्जन के कारण अंदरुनी सड़कों पर फंसी रहीं।

किसानों ने दूर रखे कांग्रेसी : धरना लगाए कुछ युवा कांग्रेसी चाहते थे कि सड़क किनारे धरना लगा भाषण दे रहे किसानों के साथ शामिल हों। जबकि किसान नेताओं ने उनको अपनी तरफ आने से रुकवा दिया।

बिट्टू ने भी किया पलटवार : भाजपा नेताओं ने अपने कार्यक्रम में पार्टी के प्रदेश प्रधान पर हमले को लेकर सांसद रवनीत सिंह बिट्टू पर गंभीर आरोप लगाए। वहीं इसका फीड-बैक मिलते ही बिट्टू ने सियासी पलटवार करते हुए भाजपा नेताओं के आरोप को खारिज किया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Ashwini Sharma, a social worker, came to join party


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2T5EpIk

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages