�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Wednesday, October 21, 2020

ट्रांसपोर्ट की आड़ में हो रही ड्रग तस्करी, मुंबई का माफिया गिरफ्तार

ड्रग्स तस्करी में पुलिस ने मुंबई के ड्रग माफिया रायडन बेथेलो को बुधवार रात समता कालोनी से पकड़ा। वह ट्रांसपोर्ट कारोबार की आड़ में ड्रग्स का धंधा करता है। पुलिस ने उसकी गाड़ी से ड्रग्स जब्त किया है। ड्रग्स तस्करी में गिरफ्तार निकिता पंचाल से की बेथेलो से दोस्ती है। बेथेलो ने ही निकिता को मुंबई के बड़े ड्रग्स माफिया से मिलाया था। बाद में निकिता ने बेथेलो की दोस्ती छत्तीसगढ़ में नशे का धंधा करने वाले आशीष शुक्ला, अभिषेक, मिन्हाज, श्रेयांस और विकास की दोस्ती करवायी। उसके बाद आशीष और उसका गैंग बेथेलो की मदद से सीधे मुंबई के ड्रग्स माफिया के संपर्क में आ गया। पुलिस के अनुसार बेथेलो मुंबई के अलावा गोवा से भी ड्रग्स लाकर यहां सप्लाई करता था। उसका नाइजीरियाई ड्रग्स माफिया से भी संपर्क है। वह छत्तीसगढ़ के अलावा ओडिशा और झारखंड में भी सप्लाई करता रहा है। ट्रांसपोर्टिंग के काम के सिलसिले में दोनों राज्याें में आता जाता है। इसी दौरान उसकी कुछ कारोबारियों से उसकी दोस्ती हो गई। वह उन्हें ड्रग्स की सप्लाई करने लगा। एसएसपी अजय यादव ने बताया कि रायपुर-बिलासपुर में पकड़े गए ड्रग्स पैडलर के मोबाइल की जांच के दौरान मुंबई के रायडन बेथेलो का क्लू मिला। उसका रायपुर में पकड़े गए आरोपियों के साथ पार्टी करते हुए वीडियो और फोटो मिला। पुलिस इतना क्लू मिलने के बाद से ही बेथेलो की तलाश में जुटी थी। इसी दौरान भिलाई की निकिता पंचाल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसके पकड़े जाने की सूचना मिलते ही रायडन मोबाइल बंद कर फरार हो गया। पुलिस उसकी तलाश करते हुए रायगढ़ तक गई थी, लेकिन वहां नहीं मिला। वह ओडिशा से मुंबई भागने की फिराक में था। बुधवार की रात वह चोरी छिपे हुलिया बदलकर समता कॉलोनी पहुंचा।


उसे एक परिचित से पैसे लेने थे। उसने परिचित को कॉल करने के जैसे ही मोबाइल चालू किया, पुलिस को क्लू मिल गया। उसके बाद घेराबंदी कर उसे समता कॉलोनी इलाके में पकड़ लिया। एसएसपी के अनुसार रायडन के पकड़े जाने से ड्रग्स के मुंबई-गोवा कनेक्शन तक पहुंचने में आसानी होगी। मुंबई के बड़े ड्रग्स पैडलर को जल्द ही पकड़ा जाएगा। इसके लिए उन्होंने अलग से टीम बनायी है। इसमें लोकल पैडलर के अलावा दूसरे राज्यों में बैठे नशे के बड़े कारोबारियों की तलाश की जा रही हैं।

नशे की पार्टी करने आता था रायपुर
पुलिस के अनुसार मुंबई से आकर रायडन ने रायगढ़ में ट्रांसपोर्ट का काम शुरू किया था। उसने तीन साल में ट्रांसपोर्ट के काम को रायगढ़ से लेकर ओडिशा-झारखंड तक फैलाया था। उसकी खुद की आधा दर्जन गाड़ियां है, जो ओडिशा-झारखंड जाती हैं। इसी के आड़ में उसने नशे का काम शुरू किया, क्योंकि वह खुद भी ड्रग्स के बिना नहीं रह सकता है। वह ड्रग्स बेचने और पार्टी करने के लिए अक्सर रायपुर आता था। उसने पुलिस को पूछताछ में बताया है कि वीआईपी रोड के कई होटल से लेकर वह आउटर के फार्महाउस और रिसॉर्ट में पार्टी कर चुका है। जहां पर ड्रग्स से लेकर गांजा उपलब्ध रहता था। वह खुद भी अपने साथियों के साथ मिलकर इस तरह की पार्टियों का आयोजन करता था। इसके अलावा सप्लाई भी करता था।

मुंबई के क्लब से आता था ड्रग्स
पुलिस के अनुसार रायडन लंबे समय मुंबई में रहा है। वह पार्टी करने क्लब जाता था। वहीं उसकी मुलाकात ड्रग्स के बड़े पैडलर से हुई थी। मुंबई के कई क्लब में ड्रग्स की सप्लाई करने वाले पैडलर से उसका सीधा संपर्क हो गया। उन्हीं पैडलर के माध्यम से वह गोवा में भी ड्रग्स खरीदने लगा। उसने कई बार कोरियर से भी ड्रग्स मंगाया है। वह रायपुर-बिलासपुर के पैडलर के साथ पार्टी करने मुंबई और गोवा भी जाता था। इसी दौरान उसने ड्रग्स के पैडलर से निकिता, आशीष, अभिषेक, श्रेयांस, मिन्हाज और विकास से मुलाकात करवायी। पुलिस को शक है कि रायगढ़ में भी आरोपी ने कई पैडलर खड़े किए है, जो खरसिया और उसके आसपास ड्रग्स का कारोबार करते हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Drug smuggling under the guise of transport, Mumbai mafia arrested


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/31uXVCQ

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages