�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Friday, October 16, 2020

पॉजिटिव महिला का ताबूत कब्र से निकलने की फैली अफवाह, रात में थाने पहुंचे ग्रामीण

जिले में शुक्रवार को 52 पॉजिटिव नए केस मिले। धनेलीकन्हार व भानुप्रतापपुर में एक-एक पॉजिटिव मरीज की मौत हो गई। मरीजों के कम होते आंकड़े जहां राहत दे रहे हैं वहीं पॉजिटिव मरीज के मौत के बढ़ते आंकडे व शव दफनाने को लेकर उठे विवाद ने चिंता बढ़ा दी है। बीती रात मनकेसरी में दफनाई गई पॉजिटिव महिला को लेकर अफवाह उड़ा दी गई कि उसका ताबूत कब्र से बाहर आ गया। ताबूत से कीड़े निकल यहां वहां फैल रहे हंै। जिसके चलते पूरा गांव रात में ही उठ कर थाना आ पहुंचा। पुिलस के समझाने के बाद कि ऐसा कुछ नहीं हुआ है, वे चले गए।
टिकरापारा की कोरोना पॉजिटिव महिला के शव को मनकेसरी में दफनाने को लेकर दोपहर में शुरू हुआ विरोध रात 11.30 बजे तक चलता रहा है। गुरूवार दोपहर में ग्रामीणों के विरोध के बाद प्रशासन व पुलिस के हस्तक्षेप से मनकेसरी के कब्रिस्तान में शव को दफना दिया गया था। लेकिन मामला यहीं नहीं रूका। शाम को हुई बारिश के बाद किसी ने अफवाह फैला दी कि कब्र से ताबूत बाहर आ गया है। ताबूत से कीड़े निकल कर फैल रहे हैं। संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है।

बता रहे थे आंखों देखा हाल लेकिन देखा किसी ने नहीं
थाना के सामने ग्रामीण जमा हुए तो मीडिया भी वहां पहुंची। ग्रामीण मीडिया को कब्र से ताबूत के बाहर आने व कीड़े निकलने, लाश चार दिन पुरानी होने, नादनमारा में विरोध के बाद मनकसेरी लाने का दावा करते हुए उसका आंखों देखा हाल बता रहे थे। लेकिन जब इन उनसे से पूछा गया कि ये पूरी घटना किसने देखी है तो सभी का जवाब था- वे दूसरों से सुने हैं। कुछ ग्रामीणों का यहां तक आरोप था कि जिस वार्ड की महिला थी वहां का पार्षद ने जानबूझ कर उसे मनकेसरी में अंतिम संस्कार करवाया है।

और यह थी हकीकत...
कब्र के कपड़े को समझ लिया ताबूत

क्रब से ताबूत निकलने की घटना की हकीकत यह थी कि ताबूत को गड्ढे में डालने के बाद उसे मिट्टी से पाट दिया गया था। महिला के धर्म के अनुसार कब्र पर एक मोमबत्ती जलाया गया। निकट ही सफेद कपड़ा भी रखा गया था। लेकिन बारिश होने व हवा चलने के कारण मोमबत्ती बुझ गई और लोगों ने मोमबत्ती व कपड़े को देख ताबूत बाहर आने की अफवाह फैला दी। साथ तीन दिन पूर्व तारसगांव के पॉजिटिव मरीज की लाश में लगे कीड़े को इस घटना से जोड़ दिया। सरपंच ममता सेरवया ने बताया कि कब्र से ताबूत निकलने की किसी ने अफवाह उड़ा दी थी। एेसा नहीं कुछ नहीं है। पॉजिटिव मरीजों के अंतिम संस्कार गांव से दूर करने की मांग की है। इसके लिए जिला प्रशासन को भी ज्ञापन सौंपा जाएगा।

ग्राम पटेल समेत दो मरीज की मौत
पिछले 24 घंटे में जिले में दो पॉजिटिव मरीज की मौत हो गई। पहली मौत गुरूवार रात 9 बजे धनेलीकन्हार के ग्राम पटेल की हुई। 65 साल के ग्राम पटेल को खून की कमी की शिकायत थी। पिछले कुछ दिन से तबीयत ठीक नहीं थी। 15 अक्टूबर को जिला अस्पताल रेफर किया गया था जिसकी रास्ते में मौत हो गई। जांच में वह कोरोना पॉजिटिव मिला। भानुप्रतापपुर विकासखंड की 20 साल की युवती बुखार, सर्दी खांसी के साथ पीलिया की शिकायत थी। उसे 14 अक्टूबर को पॉजिटिव पाया गया था। कांकेर कोविड अस्पताल में भर्ती किया गया। कांकेर कोविड अस्पताल में 16 अक्टूबर को दोपहर उसकी मौत हो गई।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Rumors of positive woman's coffin coming out of grave, villagers reach police station at night


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3nT6NMd

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages