�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Thursday, October 8, 2020

तितलियां पृथ्वी से नष्ट हो जाएंगी तो फल मिलना हो जाएगा मुश्किल

वन्य जीव संरक्षण सप्ताह के समापन पर तितलियों के महत्व व संरक्षण पर ऑनलाइन परिचर्चा हुई। इसमें विषय विशेषज्ञ अजीम प्रेमजी फाउंडेशन खरगोन के विशेषज्ञ केआर शर्मा ने तितलियों के जीवन के बारे में बताया कि ये रंग बिरंगे फूलों की ओर आकर्षित होती है। कई फूलों के परागण में मदद करती हैं। अगर तितलियां पृथ्वी से नष्ट हो जाए तो पेड़-पौधों मे परागण क्रिया प्रभावित होकर फल मिलना मुश्किल हो जाएगा।
यहां विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी भारत सरकार की संस्था रोनाल्ड रॉस विज्ञान क्लब के संयोजक नरेंद्र कर्मा कहते है की हमें अधिक से अधिक फूलों वाले पौधों को घर व बगीचों मे लगाकर तितलियों को संरक्षित करना चाहिए। कल्पना चावला साइंस क्लब कन्या उमावि सेगांव प्रशांत भावसार, न्यू विजन साइंस क्लब उमावि घोटिया रचना भावसार, कल्पना चावला साइंस क्लब शहडोल संतोष मिश्रा ने तितलियों के महत्व व उनके सरंक्षण की जरूरत बताई।

जानिए... कीट वर्ग की तितली की रंगीन दुनिया
तितली कीट वर्ग की प्राणी है। ये रंगबिरंगी व आकर्षक होती हैं। इसके शरीर के मुख्य तीन भाग हैं सिर, वक्ष व उदर। इनके 2 जोड़ी पंख व 3 जोड़ी संधियुक्त पैरे होते हैं। दिन में एक फूल से दूसरे फूल तक उड़कर मधुपान करती है। तब इनके रंग-बिरंगे पंख बाहर दिखाई पड़ते हैं। इनका पर्यावरण संतुलन में बड़ा योगदान होता है। सिर पर एक जोड़ी संयुक्त आंख होती हैं। मुंह में घड़ी के स्प्रिंग की तरह स्प्रोबोसिसश नामक खोखली लंबी सूंडनुमा रचना होती है, जिससे यह फूलों का रस चूसती है। ये एंटिना की मदद से गंध का पता लगाती हैं।

कारण: संकट में तितलियां
एक : ये जंगलों में पनपने वाले पौधों पर ही निर्भर हैं। सजावटी व हाइब्रिड पौधे तितलियों के लिए बेकार सिद्ध होते हैं। सिमट रहे उद्यान-जंगलों से जैव विविधता कम हो रही है। तितलियां भी सिमटती गईं।
दो : कीटनाशकों के ज्यादा इस्तेमाल तितलियों को मिटाने में जिम्मेदार है। अमेरिका के फ्लोरिडा में मच्छरों से उत्पन्न रोगों की रोकथाम के लिए कीटनाशकों के ज्यादा उपयोग के कारण वहां तितलियों की दो प्रजातियां विलुप्ति की कगार पर है।

नॉलेज : देश में 1504 व मप्र-विदर्भ में 177 हैं
बर्ड्स-ईसीएस संस्था के मुताबिक भारतीय उपमहाद्वीप में लगभग 1504 तितलियों की प्रजातियां देखी गई है।
मध्यप्रदेश व विदर्भ क्षेत्र में 177 तितलियों की प्रजातियां भी शामिल हैं।
दुनिया के 17 देशों में से हमारे देश में सबसे ज्यादा तितलियां पाई जाती है।
दुनिया में तितलियों की 18 हजार प्रजातियां देखी गई है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
If the butterflies are destroyed by the earth, it will be difficult to bear fruit


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/34GXOoz

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages