�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Tuesday, November 3, 2020

किसानों को बीज लेते समय करनी होगी पूरी पेमेंट, बाद में खाते में आएगी प्रति क्विंटल के हिसाब से 1 हजार रुपए सब्सिडी

गेहूं की फसल की बिजाई के लिए मंगलवार को जिला खेतीबाड़ी विभाग की तरफ से किसानों को सब्सिडी पर बीज बांटना शुरू कर दिया गया है। जिले के सभी 10 ब्लाॅक में स्थित खेतीबाड़ी दफ्तरों में अब किसान बीज ले सकते हैं। पहले दिन सभी ब्लाॅक में 100 एकड़ का बीज किसानों ने खरीदा। सब्सिडी पर दिए जा रहे इस बीज को खरीदने के लिए किसानों को पहले पूरी पेमेंट करनी पड़ेगी और बाद में विभाग की तरफ से किसानों के बैंक खातों में प्रति क्विंटल के हिसाब से एक हजार रुपए की सब्सिडी डाल दी जाएगी।

खेतीबाड़ी विभाग के अधिकारियों के मुताबिक इस सीजन में किसानों को सब्सिडी पर 3 किस्म का बीज उपलब्ध करवाया जा रहा है, जिसमें 3086, पीबीडब्ल्यू 343 और 725 किस्म शामिल है। जिले के किसानों के लिए 7,700 क्विंटल बीज खेतीबाड़ी विभाग में उपलब्ध है।

जिला खेतीबाड़ी अधिकारी डाॅ. विनय कुमार ने बताया कि इस सीजन में जिले के अंदर 1 लाख 43 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में किसानों की तरफ से गेहूं की फसल बीजे जाने का अनुमान है और इतने क्षेत्र के लिए 7,700 क्विंटल बीज काफी है। उन्होंने बीज लेने पहुंचने वाले किसानों से अपील की कि किसान जब भी बीज लेने के लिए खेतीबाड़ी दफ्तर के लिए निकलें तब सब्सिडी वाला फार्म, आधार कार्ड की काॅपी और बैंक अकाउंट की काॅपी साथ लेकर जरूर आएं।

किसान खुद तैयार करें बीज : डाॅ. विनय
खेतीबाड़ी अधिकारी डा. विनय कुमार ने कहा कि जिस किसान ने इस सीजन में 10 एकड़ में गेहूं की फसल की बिजाई करनी है वह 5 खेतों का बीज विभाग से प्राप्त करे और बाकी बचे 5 खेतों में अपने घर पर रखी हुई पिछले साल की गेहूं को अच्छे तरीके से दवाई लगाकर बिजाई करे। इससे किसान का बीज पर आने वाला खर्च कम होगा। उन्होंने बताया कि एक सीजन में तैयार किया गया बीज किसान 3 सीजन में प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि अगले 3 सीजन तक फसल के झाड़ में कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

अभी सिर्फ माहिलपुर व गढ़शंकर में खाद की सप्लाई
डाॅ. विनय ने कहा कि जिले में खाद की मुश्किल बनी हुई है। हमारी तरफ से तो डायरेक्टर खेतीबाड़ी विभाग को पत्र लिख एनएलएफ नंगल से पूरे जिले में खाद की सप्लाई दिलवाने का आग्रह किया गया था लेकिन विभाग की मांग को एनएफएल ने यह कहकर रद्द कर दिया कि पूरे जिले में खाद की सप्लाई करने पर उनका ट्रांसपोर्ट का खर्च बढ़ जाएगा इसलिए वह सिर्फ माहिलपुर और गढ़शंकर एरिया तक ही सप्लाई दे सकते हैं। वहीं, खाद की किल्लत आने के बाद जब से लोगों को इस बात की जानकारी मिली है कि एनएफएल नंगल की तरफ से माहिलपुर-गढ़शंकर एरिया में खाद की सप्लाई दी जा रही है तब से जिले के अन्य ब्लॉक से संबंधित किसान माहिलपुर-गढ़शंकर में अपनी रिश्तेदारियां ढूंढ़ने लगे हैं ताकि रिश्तेदारों की मदद से खाद मिल सके।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Farmers will have to make full payment while taking seeds, later a 1000 rupees subsidy per quintal will come into account


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2I4coyx

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages