�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Thursday, November 5, 2020

4 घंटे तक हाईवे पर लगीं वाहनों की लाइनें, दीनानगर में सेना के वाहन फंसे, एंबुलेंस छोड़ कोई नहीं निकलने दिया

ऑल इंडिया किसान मजदूर संघर्ष कमेटी की कॉल पर किसान जत्थेबंदियों ने प्रदेश भर के हाईवे पर चक्का जाम किया। किसानों ने 12 बजे प्रदर्शन शुरू किया और शाम 4 बजे समाप्त किया। प्रदर्शन के दौरान जो बसें अपने गंतव्य की तरफ रवाना हुई थी वे बीच रास्ते में ही फंस गईं। लुधियाना से जालंधर आने वाली सवारियाें को रामामंडी और चौगिट्टी फ्लाईओवर पर ही उतरना पड़ा।

इसके बाद पैदल ही लोग इधर-उधर से निकलते दिखे। किसान ने कहा कि पहले केंद्र सरकार ने कृषि कानून धक्के से पास कर दिए और उसको रद्द नहीं कर रही है। फिर पराली जलाने पर एक करोड़ रुपए जुर्माना लगाना और 5 साल की सजा तय कर दी गई, जो कि किसानों पर जुल्म है। कानूनों को हर हाल में केंद्र सरकार को रद्द करना होगा और पराली जलाने को लेकर जो जुर्माना किया जा रहा है, उसे हटाना ही होगा। काले कानून एक-एक करके जो लागू किए जा रहे हैं। उससे आम जनता भी प्रभावित होगी।


खन्ना में गुरु अमरदास मार्केट के पास नेशनल हाईवे जाम किया। इस दौरान खन्ना से गुजरने वाला ट्रैफिक बाधित हो गया। बस स्टैंड पर बसों का हुजूम लग गया। यात्री बसों में फंसकर रह गए। किसानों ने बैरिकेड लगाकर रास्ता रोका था। जिसमें से एंबुलेंस को जाने दिया गया। ट्रैफिक चरमराने से यात्री सामान लेकर पैदल ही हाईवे पर जाते दिखे। अमृतसर में किसानों ने शहर में 5 स्थानों पर बड़ी संख्या एकत्रित कर सड़कों पर दोनों तरफ से धरना देकर जाम लगा दिया।

उधर, पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि केंद्र सरकार को जगाने के लिए दिवाली के बाद पंजाब कांग्रेस द्वारा किसानों को केंद्र के काले कानूनों से बचाने के लिए पार्टी दिल्ली के जंतर मंतर पर धरना शुरू करेगी। वहीं, आप नेताओं से मुलाकात में राष्ट्रीय कनवीनर व दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ‘लीडरशिप को निर्देश जारी किए कि वह किसानों का डटकर साथ दें।

जाम लगने से लोग भी होते रहे परेशान, इधर-उधर से निकलते दिखे

कृषि बिलों के विरोध में किसानों की ओर से दीनानगर में नेशनल हाईवे पर मगराला चौक में धरना देकर चक्का जाम किया गया। कहा-कृषि बिलों को वापस लिए जाने तक किसानों का संघर्ष जारी रहेगा। इस दौरान गुजर रहा सेना का काफिला भी जाम में फंस गया। सेना के जवान सड़क किनारे धूप में बैठे रहे।

पीयू के पास हाईवे बंद होने के चलते लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। पीयू में काम के लिए पहुंच रहे बच्चों को पैदल ही पीयू पहुंचना पड़ा, वहीं चंडीगढ़ और बहादुरगढ़ जाने वाले लोगों को भी परेशानी हुई और पुलिस ने रुट डायवर्ट किया। बहुत से लोग पैदल ही निकलते दिखे।

चलो, नींद पूरी करते हैं

लुधियाना में जाम में फंसा तो ट्रैक्टर पर ही सो गया चालक

खन्ना से अंबाला की ओर औसतन हर 5 मिनट में प्राइवेट बस और 15 मिनट में सरकारी बस गुजरती हैं। चक्का जाम से बसें और अन्य वाहन फंसे रहे। इससे वाहनों की लाइनें लग गईं। यात्री बसों में बैठे रहे। कुछ तो सामान लेकर चले गए तो कई चालक भी सोते दिखे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Lines of vehicles plying on the highway for 4 hours, army vehicles stranded in Dinanagar, no one was allowed to leave the ambulance


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/32iD3Pt

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages