�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Thursday, November 26, 2020

64 केंद्रों में धान खरीदी का डेमो आज से, 73 अफसर करेंगे निगरानी

जिले में एक दिसंबर से होने वाली धान की खरीदी को लेकर प्रशासन ने तैयारी कर ली है। धान खरीदी सुचारू रूप से हो इससे पहले का डेमो 27 व 28 नवंबर को किया जाएगा। दो दिनों के डेमो के बाद इस डाटा को डिलीट कर दिया जाएगा । डेमो में किसी प्रकार की गड़बड़ी नहीं हो इसके लिए जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अधिकारियों ने सभी धान खरीदी केंद्र के प्रभारियों को पहले से ही निर्देश जारी कर दिया है ।
जिले में इस साल किसानों की सुविधा के हिसाब से 5 नए धान खरीदी केंद्र भी बढ़ाए गए हैं। इस तरह इस बार 64 खरीदी केंद्रों में किसान धान बेचेंगे। इन खरीदी केंद्रों में किसानों की एंट्री भुइयां पोर्टल में की गई है। पोर्टल मेंं किसानों द्वारा ली गई उपज का रकबा, खसरा, आधार नंबर और धान बेचने का रजिस्ट्रेशन नंबर दर्ज है। धान खरीदी का सॉफ्टवेयर जैसे ही अपलोड होगा किसानों की एंट्री दोबारा की जाएगी। जैसे -जैसे किसान धान बेचेगा उसे वास्तविक पोर्टल में एंट्री करेंगे।
जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के विपणन अधिकारी आर बी सिंह ने बताया कि हर केंद्र में 5 से 7 किसानों का ऐसा ही डेमो होगा। कोई तकनीकी गड़बड़ी होगी तो उसे तत्काल सुधारे जाएंगे। उन्होंने कहा कि डेमो के बाद इस डाटा को 28 नवंबर की शाम को डिलीट कर दिया जाएगा । धान खरीदी में कोई गड़बड़ी नहीं हो इसके लिए 73 नोडल अधिकारी बनाए गए हैं । ये अधिकारी 64 धान खरीदी केंद्रों व 9 नाके से गुजरने वाले वाहनों की जांच करेंगे ।

इस साल 12 लाख क्विंटल धान की होगी खरीदी
जिले में इस बार ज्यादा किसान अपनी उपज बेचने खरीदी केंद्रों में आएंगे। इस साल 32 हजार 913 किसानों ने पंजीयन करवाया । पिछले साल की तुलना में इस साल 4663ज्यादा किसानों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। पिछले साल 29 हजार 943 किसानों ने धान बेचने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया था। वहीं रकबा भी बढ़ा है। पिछले साल किसानों ने 50 हजार 518 तो वहीं इस साल 54 हजार 512 हेक्टेयर में ली गई धान फसल को बेचने के लिए पंजीयन कराया है । इन किसानों से 12 लाख क्विंटल धान खरीदे जाने की बात कही जा रही है ।

हर दिन 20-25 किसानों को बटेंगे टोकन मुख्य सचिव ने ली जानकारी, दिए निर्देश
कोरोना संक्रमण के बीच किसानों को धान बेचने में कोई परेशानी नहीं हो इसके लिए टोकन में कटौती की गई है । पिछले साल जहां हर दिन 35-40 किसानों को टोकन काटा गया था वहीं इस साल केवल 20-25 किसानों का ही टोकन काटा जाएगा। विपणन अधिकारी ने कहा कि समितियों में किसानों की संख्या के आधार पर किसानों को टोकन देने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि गुरूवार को धान खरीदी की तैयारी के संबंध में अपर मुख्य सचिव अमिताभ जैन ,अपर मुख्य सचिव (मुख्यमंत्री) सुब्रत साहू और सचिव खाद्य डाॅ. कमलप्रीत सिंह के द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा की गई। इस समीक्षा में गिरदावरी एवं किसान पंजीयन, धान खरीदी के लिए उपार्जन केन्द्रों में तैयारी, अन्तरराज्यीय धान परिवहन पर रोक केे लिए जांच दल का गठन, बारदाना व्यवस्था, वर्ष 2019-20 के शेष धान का निराकरण, धान खरीदी केन्द्रों में चबूतरा निर्माण, टोकन व्यवस्था के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। कांफ्रेंसिंग कलेक्टर रजत बंसल के साथ जिला सहकारी केंद्रीय बैंक और खाद्य विभाग के साथ ही अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे ।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Demo of paddy purchase in 64 centers from today, 73 officers will monitor


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3l9PN1u

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages