�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Monday, November 2, 2020

पनीर, खोया व देसी-घी के 692 सैंपलों में 85% सैंपल फेल, त्योहारी सीजन के चलते विभाग का मिलावटखोरों पर शिकंजा

सूबे में फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन विभाग द्वारा की गई रेड्स में अब तक मिठाई के 767, दूध के 673, खोया के 177, पनीर के 265, दही के 124 और देशी घी के 250 सैंपल लिए हैं। इसमें 437 सैंपल विभाग के मानकों पर खरे नहीं उतरे और फेल पाए गए हैं। पनीर, खोया और घी के 692 सैंपलों में करीब 85% सैंपल फेल पाए गए हैं। विभाग द्वारा इन लोगों के खिलाफ अब कानूनी कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि नकली दूध, खोया और पनीर बनाने के लिए कई प्रकार के केमिकलों का इस्तेमाल किया जाता है।

अक्सर त्याेहाराें के सीजन में मिठाइयां बनाने के लिए पनीर, घी और खोया की डिमांड बढ़ जाती है। इस खपत को पूरा करने के लिए कुछ मिलावटखोर मिलावटी खोया, पनीर और घी की सप्लाई कर खुद तो मुनाफा कमाने के साथ लोगों की जान से खिलवाड़ करते हैं। लेकिन इस बार स्वास्थ्य विभाग ने ऐसे लोगों काे पकड़ने के लिए अभी से कार्रवाई शुरू कर दी है। अभी तक कई किलो नकली घी, खोया, पनीर और मिठाइयां पकड़ी जा चुकी हैं। वहीं, दुकानों पर नकली खोया, पनीर और घी की सप्लाई को पकड़ने के लिए हर जिले में दो टीमें बनाई जाएगी। यह टीमें दूसरे राज्यों से आने वाले दूध और इससे बने उत्पादों की खेप पर नजर रखेंगी।

लुधियाना: गुड़ में चीनी, रंग व केमिकल डालते पकड़े

फूड सेफ्टी टीम ने जेसीटी महाकाल कॉलोनी में नकली गुड़ बनाने की फैक्टरी का पर्दाफाश किया है। फैक्टरी से मौके पर पुराना और खराब क्वालिटी का गुड़ बरामद किया, जिसमें चीनी, रंग व केमिकल डाल उसे नया बनाया जा रहा था। मौके पर टीम ने 6 क्विंटल नया तैयार किया गुड़, गुड़ तैयार करने के लिए 12 क्विंटल का सामान और 16 क्विंटल चीनी बरामद की। 5 सैंपल भी लेकर स्टेट लैब में भेजे गए हैं। जिसमें 3 गुड़, 1 चीनी और 1 रंग का सैंपल है। यूनिट को सील कर दिया गया है।

विभाग की टीमें मार्केट एसोसिएशनों से करेंगी बैठकें

विभाग की टीमों द्वारा दुकानदारों व लोगों को नकली दूध, पनीर, घी व खोया का इस्तेमाल नहीं करने के बारे में जागरूक किया जाएगा। वहीं, विभाग की टीमें मार्केट एसोसिएशनों के पदाधिकारियों से बैठकें करेंगी। बाजार में पनीर 350 रुपए किलो के हिसाब से बेचा जाता है जबकि मिलावट करने वाले यह पनीर महज 70 से 80 रुपए तैयार कर लेते हैं। इसे दुकानदारों को 150 से 200 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बेचा जाता है। जिससे मिलावटी समान बेचने वालों को सीधे आधे से ज्यादा राशि का फायदा होता है।

मिलावटी खोया, पनीर और घी बेचने वाले होंगे जल्द गिरफ्तार

विभाग द्वारा पहले ही लोगों से खुली मिठाइयां देखकर खरीदने की अपील की जा चुकी है। इसके अलावा मिलावटी खोया,पनीर और घी बेचने वालों को पकड़ने के लिए विभाग के अधिकारियों को छापेमारी तेज करने को कहा गया है।
-बलबीर सिंह सिद्धू , स्वास्थ्य मंत्री



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Out of 692 samples of Paneer, Khoya and Desi-Ghee, 85% of the sample failed, due to festive season, the department screws on adulterants


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/389k91h

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages