�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Sunday, November 29, 2020

पटरियां खाली-खाली इसलिए बढ़ गई ट्रेनों की स्पीड, राजधानी आने वाली अधिकांश गाड़ियां समय से पहले

राजधानी रायपुर से अभी लगभग 25 स्पेशल ट्रेनें रोज गुजर रही हैं और इनमें से अधिकांश लंबी दूरी वाली हैं। लेकिन खास बात यह है कि दूरी ज्यादा हो या कम, लगभग सभी ट्रेनें रोजाना समय से पहले (बिफोर टाइम) रायपुर पहुंच रही हैं। इनमें हावड़ा-मुंबई के अलावा उत्तरप्रदेश-बिहार की ट्रेनें भी हैं, जो लेट के लिए हमेशा ही रिकार्ड बनाती रही हैं। भास्कर को रेलवे अफसरों ने इनकी वजह बताई कि रेलवे लाइन पर कम गाड़ियां होने के कारण जो ट्रेनें औसतन 80-90 किमी प्रतिघंटा चल रही थीं, उनकी औसत रफ्तार बढ़कर 110 और 120 किमी प्रतिघंटा हो गई है।

रेलवे अफसरों ने बताया कि स्पीड बढ़ने के साथ-साथ अब रेलवे लाइनों पर ट्रैफिक ओवरलोड की वजह से स्पीड कॉशन भी नहीं है। जब पूरी क्षमता से ट्रेनें चल रही थीं, तब स्पीड काॅशन की वजह से कई ट्रेनों की अलग-अलग जगह स्पीड घटा दी जाती थी। कुछ ट्रेनों को इस वजह से क्रासिंग देने के नाम पर स्टेशनों पर खड़ा भी कर दिया जाता है।

स्पीड काॅशन नहीं होने से ट्रेनें दो स्टेशनों के बीच समान गति से चल रही हैं। रायपुर मंडल इस मौके का फायदा उठाना जा रहा है। अफसरों का कहना है कि अभी की प्रैक्टिस से कुछ बातें ऐसी निकाली जा रही हैं, जिन्हें लागू कर कोरोना काल के बाद छत्तीसगढ़ में ट्रेनों की औसत रफ्तार बढ़ाई जाए। माना जा रहा है कि यहां ट्रेनें अप्रैल-मई तक 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ने लगेंगी।

122 की जगह रोज 25 ट्रेनें
कोरोना काल से पहले औसतन 122 ट्रेनें रायपुर से रोजाना गुजरती थी, जबकि इन दिनों करीब 25 ट्रेनें ही चल रही हैं। इस कारण रेल मार्ग में ट्रैफिक दबाव काफी कम होने से ट्रेनों को रवाना करने में परेशानी नहीं हो रही है। हालांकि पहले भी औसतन 218 मालगाड़ियां रायपुर से गुजरती थी, जिसकी संख्या अभी भी उतनी ही है। पैसेंजर ट्रेनों की संख्या कम होने से ही ट्रेनों के परिचालन पर भी असर दिख रहा है।

मालगाड़ी की रफ्तार दोगुनी : विभिन्न रूटों में मालगाड़ियों के कारण भी कई बार पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन प्रभावित होता है। लेकिन इन दिनों रेलवे प्रशासन के पास यह परेशानी नहीं है। ट्रेनों के साथ ही मालगाड़ियों की गति को इन दिनों बढ़ा दिया गया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
The tracks emptied and hence the speed of trains increased, most of the trains coming to the capital ahead of time


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3mmyz2e

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages