�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Monday, November 16, 2020

बैंक गारंटियां जब्त होने पर पैसे अफसरों की सैलरी से काटने की थी हिदायत, डेडलाइन नजदीक काम फिर भी अधूरे

निगम की बीएंडआर ब्रांच के अधिकारियों पर न तो एनजीटी की सख्ती का कोई असर है और न ही निगम कमिश्नर द्वारा दी गई जिम्मेदारी को पूरा करने पर ध्यान है। इसी के चलते निगम कमिश्नर प्रदीप कुमार सभ्रवाल ने दीपावली से ठीक एक दिन पहले बीएंडआर ब्रांच के अफसरों को काम के प्रति निजी ध्यान न देने, उच्चाधिकारियों के आदेशों को न मानने और एनजीटी की हिदायतों अनुसार समय पर काम को पूरा न करने के दोष में कारण बताओ नोटिस जारी किया।

बता दें कि उच्चाधिकारियों का आदेश न मानने का मामला पहले भी सामने आ चुका है। सड़कों की क्वालिटी में कमियां सामने आने पर एडिशनल कमिश्नर ऋषिपाल सिंह ने बीएंडआर ब्रांच का रिकाॅर्ड तलब किया, लेकिन आज तक बीएंडआर ब्रांच उन्हें रिकाॅर्ड ही नहीं दे पाया है। ऐसे में एक बात साफ है कि बीएंडआर ब्रांच के अधिकारियों पर किसी बड़े नेता का आशीर्वाद जरूर है, जिसके चलते उन्हें निगम तक के आदेशों की परवाह नहीं है।

समय पर काम पूरा न करने पर नगर निगम कमिश्नर ने लिया एक्शन

दरअसल तीन माह पहले एनजीटी की गठित मॉनिटरिंग कमेटी की मीटिंग में निगम की कमियां सामने आईं थी और कमियों को तय समय में दूर न करने के आरोप में अलग-अलग पॉइंट्स पर 22 लाख की बैंक गारंटी निगम से मांगी गई। बैंक गारंटियों को बचाने के लिए नगर निगम के पास सिर्फ 30 नवंबर 2020 तक का ही समय दिया गया है। जबकि निगम कमिश्नर ने मीटिंग के उपरांत दो माह पहले सभी ब्रांचों जैसे बीएंडआर, ओएंडएम, हाॅर्टिकल्चर, हेल्थ ब्रांच के अधिकारियों से मीटिंग करते हुए सख्त हिदायतें जारी की थी और यहां तक कह दिया गया था कि अगर बैंक गारंटियां जब्त हाेंगी तो सारा पैसे अफसरों की सैलरी से काटा जाएगा। सभी ब्रांच हेड की जिम्मेदारी फिक्स भी की गई, लेकिन बीएंडआर ब्रांच अपने काम काे समय पर पूरा नहीं कर पाया है। इसलिए निगम कमिश्नर ने नोटिस जारी कर दिया है।

इन कामों के लिए मांगी गई 22 लाख बैंक गारंटी

  • शहर में 922 पार्क हैं, लेकिन यहां पर कंपोस्ट पिट ही नहीं हैं। इसे सुनिश्चित कराने के लिए 2 लाख की बैंक गारंटी मांगी है। ये काम अभी तक पूरा नहीं किया गया है।
  • 18 मैटीरियल रिकवरी फैसिलिटी रूम काम्पैक्टर वाली साइट्स पर नहीं बनाए जाने पर 5 लाख की बैंक गारंटी मांगी गई है। अब 9 साइट्स के टेंडर लगेंगे, इसके लिए बीएंडआर को आदेश दिए हैं कि 30 नवंबर तक इसे पूरा किया जाए।
  • ताजपुर रोड डंप साइट की चारदीवारी न होने के चलते 5 लाख बैंक गारंटी मांगी है। कमिश्नर ने सेक्रेटरी जसदेव सिंह सेखों की जिम्मेदारी फिक्स कर डिमार्केशन कर रिपोर्ट पेश कर बीएंडआर से जल्द दीवार बनाने का काम शुरू करवाया जाए। ये काम भी अधूरा है।
  • 100% डोर-टु-डोर कूड़ा कलेक्शन और सेग्रीगेशन न होेने पर 5 लाख की बैंक गारंटी मांगी गई। 15 दिन में 100% इसे लागू किया जाए। ये 30 नवंबर तक सुनिश्चित करने की डेडलाइन है। ये काम भी अभी तक अधूरा है।
  • कूड़े का ट्रीटमेंट न करवाने पर 5 लाख की बैंक गारंटी मांगी है। अब निगम कमिश्नर ने स्मार्ट सिटी के तहत जल्द डीपीआर बनाने को कहा है। सीएंडडी प्लांट के लिए भी डीपीआर बनाने को कहा है। इनकी डेडलाइन 28 फरवरी 2021 है। इनका काम तक शरू नहीं हुआ।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
On the seizure of bank guarantees, the instructions were to be deducted from the salary of the officers, the work near deadline is still incomplete


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3lCQUrF

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages