�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Monday, November 16, 2020

घाटी के तीनों यू टर्न पर सड़क गायब बाइक से चलना अब जोखिम से भरा

कुनकुरी के सलियाटोली से झारखंड बॉर्डर शंख नदी पुल तक बन रहे एनएच 43 पर वर्तमान में लोरो घाटी पर निर्माण कार्य चल रहा है। घाटी के चौड़ीकरण का काम पूरा कर लिया गया है और घाटी के तीनों यू टर्न के ऊपर व नीचे सड़क की ढ़लाई का काम चल रहा है। अधूरे निर्माण और पानी का छिड़काव नहीं होने से फिलहाल निर्माणाधीन घाटी धूलों की घाटी बन गई है, जहां वाहनों की आवाजाही के कारण धूल की गुबार उठ रहा है।
लोरो घाटी के तीनों यू टर्न पर जिस हिस्से में सड़क को चौड़ा किया है, उस हिस्से को मुरूम व मिट्‌टी से भरा है। घाटी में सुरक्षा के लिहाज से खाई के साइड पर दीवार खड़ी करने का काम पहले पूरा कर लिया गया था। वर्तमान में घाटी की तीनों मोड़ पर पुरानी सड़क का अब नामोनिशान नहीं बचा है, क्योंकि नई सीसी सड़क के लिए ढलाई का काम कुछ दिनों बाद शुरू किया जाना है। ऐसी स्थिति में घाटी के तीनों मोड़ मिट्‌टी से भरे हुए हैं और वाहनों के गुजरने से इसमें लगातार धूल का गुबार उठ रहा है ऐसे में सड़क पर चलते समय कुछ दिनों तक ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है, क्योंकि धूल के कारण सामने आ रही गाड़ियां नजर नहीं आती हैं।
ट्रक चालक वाहनों की हेडलाइट जलाकर घाटी चढ़ व उतर रहे हैं। वर्तमान में इस सड़क पर चलना बाइक चालकों के लिए सबसे ज्यादा जोखिमभरा है, क्योंकि बाइक चालक यदि हेलमेट व चश्मा ना पहनें तो वे धूल के कारण आगे का रास्ता देख ही नहीं पाएंगे। बाइक पर चलने वालों का पूरी शरीर पर घाटी पार करने के दौरान धूल से भर जा रहा है। इससे सांस के मरीजों को खासी परेशानी हो सकती है।

महीनेभर का लग सकता है वक्त
घाटी में तीनों टर्न की ढ़लाई का काम निर्माण एजेंसी जल्द शुरू करेगी। घाटी के दोनों ओर सड़क की ढ़लाई का काम चालू है। सड़क के एक हिस्से को शुरू में ढाला जाएगा इसके बाद करीब एक सप्ताह तक ढाले ह़ुए साइड पर पानी डालकर इसमें मजबूती लाई जाएगी। जब एक हिस्से का काम पूरा होगा तब दूसरे हिस्से पर सड़क ढालने का काम किया जाएगा। घाटी के तीनों टर्न की लंबाई लगभग तीन किलोमीटर है।

दूसरा कोई रास्ता नहीं
फिलहाल जशपुर से कुनकुरी, पत्थलगांव, रायगढ़, बिलासपुर, रायपुर जाने के लिए हाइवे के अलावा दूसरा कोई रास्ता नहीं है। दोपहिया व चारपहिया वाहन चालक पहले घाटी में सड़क खराब होने की स्थिति में दमेरा वाले रास्ते से निकलते थे, पर बीते दो साल से दमेरा की सड़क का मेंटनेंस नहीं होने के कारण अब यह सड़क बाइक से चलने के लायक भी नहीं बची है। सड़क के निर्माण की स्वीकृति मिली है और काम आधा होकर वन विभाग की आपत्ति के कारण बीच में रूका हुआ है। ऐसी स्थिति में लोगों को मजबूरन लोगों को हाइवे पर चलना पड़ रहा है।
मार्च अप्रैल तक हाइवे का निर्माण होगा पूरा
"कोविड के कारण लेबरों के चले जाने से निर्माण कार्य प्रभावित हुआ था। अब तेजी से काम चल रहा है। हाइवे का निर्माण कार्य मार्च-अप्रैल माह तक पूरा हो जाएगा।''
-संजय दिवाकर, एसडीओ, एनएच



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Bike disappearing on all three U-Turns in the valley


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2K6xxJw

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages