�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Monday, November 16, 2020

फाइनल ईयर स्टूडेंट्स को ही फिलहाल अनुमति, पहले दिन स्टूडेंट्स की संख्या बेहद कम

कोविड-19 महामारी के कारण करीब आठ महीने बंद रहने के बाद सोमवार को कॉलेज फिर से खुल गए। राज्य सरकार ने इस महीने की शुरुआत में शैक्षणिक संस्थानों को खोलने का फैसला किया था। इन संस्थानों को राज्य के स्वास्थ्य विभाग और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ चर्चा के बाद विभिन्न संबंधित प्रशासनिक विभागों की ओर से तैयार की गई मानक संचालन प्रकिया (एसओपी) का कड़ाई से पालन करने को कहा गया है।

एसओपी के मुताबिक संस्थानों को खोले जाने के पहले चरण में विज्ञान, चिकित्सा, इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी जैसे विभागों के फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स को क्लासों में आने की अनुमति होगी, जहां प्रायोगिक परीक्षण पाठ्यक्रम का हिस्सा है। इसके बाद अन्य पाठ्यक्रमों के स्टूडेंट्स को अनुमति होगी। हालांकि सोमवार को सभी कॉलेज नहीं खुले, जो खुले भी उनमें भैया दूज और खराब मौसम की वजह से स्टूडेंट्स की संख्या बहुत ज्यादा कम रही। एक क्लास में 7 से 8 स्टूडेंट्स ही पहुंचे।

प्रिंसिपल बोले-खराब मौसम और भैया दूज होने के चलते कॉलेजों में स्टूडेंट्स की संख्या रही बेहद कम

स्टूडेंट्स और मुलाजिमों का एंट्री और एग्जिट गेट अलग-अलग कर दिया गया है। थर्मल स्क्रीनिंग, सेनेटाइजर की व्यवस्था की है। मास्क जरूरी है। क्लासेज में कुल स्टूडेंट्स के 50 प्रतिशत से ज्यादा स्टूडेंट्स को नहीं बुलाया जाएगा। सोमवार को पहले दिन खराब मौसम और भैया दूज होने की वजह से स्टूडेंट्स की संख्या बेहद कम रही। धीरे धीरे बढ़ने की संभावना है। -डॉ. धर्म सिंह संधू, प्रिंसिपल, एससीडी कॉलेज

प्रशासनिक विभागों की ओर से तैयार की गई मानक संचालन प्रकिया (एसओपी) को लेकर प्लानिंग कर ली गई है। स्टूडेंट्स की सुरक्षा प्राथमिकता होगी। कॉलेज एक-दो दिन में खोला जाएगा। फिलहाल फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स की क्लासें शुरू की जाएंगी। -अजय शर्मा, प्रिंसिपल, श्री ओरबिंदो कॉलेज ऑफ कॉमर्स और मैनेजमेंट

कोविड 19 के बीच तय मानकों को ध्यान में रखते हुए कॉलेज खोला गया, लेकिन पहले दिन कॉलेज में बहुत ही कम स्टूडेंट्स पहुंचे। पहले यूजी और पीजी के फाइनल ईयर की क्लासें शुरू होंगी। अगर सब कुछ मैनेज हुआ तो इसके बाद ही अन्य क्लासों को शुरू करने की गाइडलाइन है। -डॉ. मुक्ति गिल, खालसा कॉलेज फॉर वुमन

स्टूडेंट्स के पेरेंट्स से सर्वे कर जानकारी ली जा रही है कि वे अपने बच्चों को कॉलेज भेजने के हक में हैं या नहीं। पंजाब यूनिवर्सिटी की गाइडलाइन में साफ है कि पेरेंट्स की सहमति जरूरी है। इसके बाद ही अंतिम फैसला लिया जाएगा। हालांकि कॉलेेज की तरफ से तैयारियां कर ली गई। सेनेटाइजर, थर्मल स्कैनिंग और मास्क सब अनिवार्य होगा। -सूक्ष्म आहलूवालिया, इंचार्ज, आर्य कॉलेज गर्ल्स सेक्शन



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Final year students are allowed at present, the number of students is very less on the first day


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3f416XE

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages