�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Friday, November 20, 2020

कांग्रेस सरगर्म, शिअद व भाजपा अलग-अलग चुनाव लड़ेंगे

नगर निगम के चुनाव की तारीख चाहे अभी तय नहीं हुई हो लेकिन कांग्रेस पार्टी ने चुनाव लड़ने की कमर कस ली है, वहीं भाजपा और अकाली दल पूरी टक्कर देने के मूड में हैं।

फिलहाल 50 वार्डों से उम्मीदवारी की दावेदारी जताने वाले कांग्रेसियों ने अबोहर कांग्रेस प्रभारी संदीप जाखड़ के समक्ष अपना-अपना शक्ति प्रदर्शन भी शुरू कर दिया है। एक-दो वार्डों में तो संदीप जाखड़ द्वारा उम्मीदवारों को थापी देकर कार्य के लिए जुट जाने के आदेश भी दे दिए हैं। जहां कांग्रेस ने चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है।

वहीं भाजपा में अभी कोई सुगबुगाहट दिखाई नहीं दे रही लेकिन विधायक अरुण नारंग के अनुसार पार्टी ने चुनाव लड़ने की तैयारी कर ली है, जैसे ही सरकार की तरफ से चुनाव की तारीख का कोई ईशारा मिलेगा वो उसी तरह से तैयारी शुरू कर देंगे। दूसरी तरफ नए उभरे युवा नेता हरबिंद्र हैरी अकाली दल की बागडोर को संभालने की तैयारी कर रहे हैं।

उन्होंने तो पार्टी के प्रचार के लिए अलग-अलग इलाकों का दौरा करना भी शुरू कर दिया है। निगम में बोर्ड बनाने को लेकर कांग्रेस, भाजपा और अकाली दल पूरा आश्वासित नजर आ रहा है, लेकिन इस बार के चुनाव इतिहास के पन्नों को पलटकर देखें तो अलग तरह के चुनाव होंगे।

इस बार चुनाव में सबसे बड़ा पहलू ये है कि अकाली दल और भाजपा अलग-अलग चुनाव लड़ेंगे। दूसरा अहम पहलू अबोहर के निगम बन जाने के कारण 17 वार्डों की संख्या बढ़ गई है, जिस कारण अब 33 की जगह 50 वार्डों में कम से कम 150 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमाएंगे।

अबोहर में नगर निगम के तौर पर होगा पहला चुनाव

बता दें कि अबोहर में नगर निगम के तौर पर पहला चुनाव है, इससे पहले नगर परिषद के तहत चुनाव हुआ करते थे। हर चुनाव में जमकर कशमकश देखने को मिलती रही, लेकिन पिछले दो चुनावों में कांग्रेस को पटखनी खानी पड़ी।

इस बार कांग्रेस अपना बोर्ड बनाने के पूरे मूड में नजर आ रही है, क्योंकि संदीप जाखड़ मानते हैं कि शहर के विकास में कोई कमी नहीं रखी गई और न ही रखने दी जाएगी, इसलिए लोग कांग्रेस को वोट देंगे। दूसरी तरफ विधायक अरुण नारंग का कहना है कि भाजपा के कार्यकाल में शहर का अच्छा विकास हुआ है, इसलिए लोग भाजपा के बोर्ड का गठन करेंगे।

शिरोमणि अकाली दल के हरबिंद्र विस लड़ने के मूड में

शिरोमणि अकाली दल संसदीय चुनाव के बाद इन दिनों हरबिंद्र हैरी के नेतृत्व में सरगर्म हुई है। सूत्रों के अनुसार अकाली नेता और अकाली दल के जिला प्रधान हरबिंद्र हैरी अबोहर से विधानसभा चुनाव लड़ने के मूड में हैं, इसलिए सुखबीर बादल ने उन्हें निगम चुनाव में मेहनत करने के लिए कहा है।

उसी मेहनत के आधार पर अबोहर विधानसभा चुनाव के लिए हैरी की टिकट तय होगी। अबोहर नगर निगम में चुनाव के परिणामों के बाद पार्टी की तरफ से जीतने वाले पार्षदों की संख्या का आंकड़ा हैरी के लिए रामबाण साबित होगा।

कार्यकर्ता पंजकोसी में कर रहे शक्ति प्रदर्शन

मानें तो लगभग हर रोज चुनाव लड़ने का मूड बनाने वाले कार्यकर्ता संदीप जाखड़ के पास पंजकोसी पहुंच रहे हैं। अभी तक पुरानी फाजिल्का रोड के एक वार्ड के लिए उम्मीदवार के नाम का चयन कर दिया गया है जबकि जैन नगरी इलाके में दो गुट अपना-अपना शक्ति प्रदर्शन जाखड़ के सामने करके आ चुके हैं। टिकट किसे दिया जाएगा ये तो बाद में पता चलेगा लेकिन इस वक्त कांग्रेस की सरगर्मी हर जगह चर्चा का विषय बनी हुई है।

कृषि कानूनों के कारण अकाली-भाजपा गठबंधन टूटा

हम आप को बता दें अबोहर में नगर निगम का यह पहला चुनाव है और इस बार अकाली, भाजपा भी अलग-अलग चुनाव लड़ेंगे क्योंकि अकाली भाजपा का वर्षों पुराना गठबंधन टूट चुका है। जिसका मुख्य कारण कृषि कानून रहा है।

आम आदमी पार्टी लड़ी तो होगा चौतरफा मुकाबला

इसके अलावा अगर आम आदमी पार्टी चुनाव लड़ी तो चुनावी मैदान में चौतरफा मुकाबला देखने को मिलेगा। राजनीतिक माहिर सीधे-सीधे इस चुनाव को विधानसभा चुनाव के साथ जोड़ कर देख रहे हैं। हांलाकि, कांग्रेस सत्ता के दम पर कुछ न कुछ उठापटक जरूर करने की कोशिश कर सकती है। लेकिन अबोहर में भाजपा का विधायक और फिरोजपुर से अकाली दल का सांसद होने का दबाव कांग्रेस पर भारी पड़ सकता है। कुल मिला कर अबोहर निगम चुनाव बहुत रोचक होगा ।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Congress enthusiast, SAD and BJP will fight separate elections


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2UNDjSo

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages