�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Thursday, December 24, 2020

न एजेंडा न विजन; पावरकॉम, निगम और एनएचएआई का नहीं पहुंचा कोई अधिकारी, 20 मिनट में मीटिंग खत्म

रोड सेफ्टी कमेटी की मीटिंग इस बार भी नगर निगम के अधिकारियों की अनदेखी की भेंट चढ़ गई। शाम करीब 4:10 बजे मीटिंग शुरू हुई तो एडीसी जनरल जसवीर सिंह ने शहर के विकास कार्यों के हालात पर कमेटी मेंबर्स के साथ चर्चा शुरू की। इस दौरान पता चला कि जिस विभाग के सहारे कमेटी के 80 फीसदी काम होते हैं, उस विभाग का कोई अधिकारी या फिर कर्मचारी मीटिंग में नहीं आया। एडीसी के कहने पर मीटिंग में मौजूद सेक्रेटरी, आरटीए बरजिंदर सिंह ने निगम के एक अधिकारी को फोन किया तो उन्हाेंने काॅल रिसीव नहीं की। एसएमएस किया तो जवाब नहीं मिला।

निगम, हाईवे ओर बिजली विभाग के अधिकारियों के नदारद रहने के चलते मीटिंग ज्यादा देर नहीं चल सकी। करीब 4:30 बजे तक ज्यादातर अधिकारी नदारद रहे तो डीसी घनश्याम थोरी भी दंग रहे। डीसी ने मेंबर्स से कहा कि अगली मीटिंग में सिर्फ दो एजेंडों पर ही काम करेंगे।

कमेटी मेंबर्स ने मांगा तो 4 साल पुराना एजेंडा आगे रख दिया, डीसी बोले- अगली मीटिंग में दो एजेंडों पर ही काम होगा

बदहाल सड़कों और खटारा वाहनों का मुद्दा चला, आरटीए बोले- कार्रवाई करेंगे

मीटिंग की कार्यवाही आगे बढ़ी तो सभागार में मौजूद कमेटी के सीनियर मेंबर डॉ. तरसेम कपूर, एसके कपूर, हरदेव ढिल्लों और सुरिंदर सैनी ने एजेंडे की मांग की। इसके बाद मेंबर्स के सामने 4 साल पुराना एजेंडा रख दिया गया। इस पर मेंबर्स ने नाराजगी दिखाते हुए कहा कि ये कैसी मीटिंग हैं, जिसका न तो कोई एजेंडा है और न ही विजन। उन्होंने अधिकारियों से पूछा- भविष्य में ऐसी मीटिंग से क्या फायदा होगा। मीटिंग आगे बढ़ी तो मेंबर्स ने सिटी की बदहाल सड़कों और इन पर दौड़ रहे खटारा वाहनों का मामला उठाया। इनके लिए मेंबर्स ने अखबारों में छप रही खबरें भी दिखाईं और कहा कि ऐसे वाहन आम लोगों के जनजीवन से खिलवाड़ कर रहे हैं। इस पर आरटीए ने कार्रवाई करने की बात कही।

ऐसी मीटिंग बंद कर दीजिए
कमेटी मेंबर डॉ. तरसेम कपूर ने कहा कि बीते दो साल से मीटिंग के नाम पर केवल खानापूर्ति हो रही है। किस मुद्दे पर बात होनी हैं, इसका एजेंडा तक नहीं तैयार किया जाता है। ऐसी मीटिंग बंद कर देनी चाहिए क्योंकि इसका कोई फायदा नहीं।

लापरवाह अधिकारियों की जवाबदेही तय हो...
सुरिंदर सैनी ने बताया कि ट्रैफिक लाइटें, ब्लैक स्पॉट सहित सिटी के विकास के अन्य कई मुद्दों पर बात हुई लेकिन संबंधित विभागों के अधिकारियों के मीटिंग में नहीं आने से पुराने मामले जस के तस बने रहे। उन्होंने डीसी से कहा कि लापरवाह अधिकारियों की जवाबदेही तय हो और पुराने मुद्दे खत्म करने के लिए कड़े कदम उठाए जाएं।

संबंधित अधिकारी पर कार्रवाई होगी... डीसी घनश्याम थोरी ने बताया िक उन्होंने मामले की गंभीरता को लेते हुए निगम कमिश्नर से बात की है। उन्होंने एक अधिकारी की ड्यूटी लगाई थी। मीटिंग में न पहुंचने के कारण संबंधित अधिकारी पर कार्रवाई की जाएगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Neither agenda nor vision; Powercom, corporation and NHAI did not reach any officer, meeting ended in 20 minutes


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/34JC4Jn

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages