�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Saturday, December 5, 2020

5 दिन में 1 फीसदी किसान भी नहीं बेच पाए धान

1 दिसंबर से धान खरीदी शुरू हो गई है। इस बीच शनिवार को किसी भी केंद्र से एक भी टोकन नहीं काटा गया और न ही धान खरीदा जा सका है। इसके पीछे कारण ये है कि शनिवार और रविवार को धान खरीदी नहीं होती है। हफ्ते के 5 दिन सोमवार से शुक्रवार तक धान खरीदी के चलते किसानों को दोनों दिनों के न तो टोकन दिए गए हैं और न ही उनसे धान ही खरीदा गया। ऐसे में अब तक 1 फीसदी किसान भी अपना धान नहीं बेच पाए हैं।

इधर बस्तर जिले के 8 खरीदी केंद्रों से 10 किसान तय तारीख पर धान बेचने पहुंचे ही नहीं। ऐसे में उनके टोकन रद्द कर दिए गए हैं। वहीं अगले दिनों के लिए उन्होंने दोबारा टोकन भी नहीं लिया है। बस्तर जिले में अब तक 104 किसानों ने ही अपना धान बेचा है, जबकि धान बेचने के लिए 32913 किसानों ने पंजीयन करवाया है। मालूम हो कि बस्तर जिले में कुल 64 धान उपार्जन केंद्र हैं, जिसमें से 51 केंद्रों में ही धान खरीदी शुरू हो सकी है। बाकी केंद्रों में अब तक धान खरीदी शुरू नहीं हो सकी है।

8 केंद्रों में 10 किसानों ने टोकन तो लिया, लेकिन धान बेचने पहुंचे ही नहीं: बस्तर जिले के 8 उपार्जन केंद्रों में 10 किसान अपना धान लेकर तय तारीख पर पहुंचे ही नहीं। इनमें पल्ली में 3, नानगुर, पुसपाल, बड़ांजी, बाबूसेमरा, मंगनार, लामकेर और लोहंडीगुड़ा केंद्र में 1-1 किसान नहीं पहुंचे। ऐसे में उनके टोकन निरस्त कर दिए गए हैं। वहीं उन्होंने अगली तारीखों के लिए भी दोबारा टोकन नहीं कटवाया है। ऐसे में अब उनके धान को बेचने को लेकर कोई भी पहल नहीं की जा पा रही है।

अगले हफ्ते से धान खरीदी में आएगी तेजी

शुरूआती 5 दिनों में जहां धान खरीदी की रफ्तार काफी धीमी है, वहीं आने वाले हफ्ते से खरीदी के रफ्तार पकड़ने के आसार हैं। बताया जाता है कि किसानों को शत-प्रतिशत धान खरीदने को लेकर सरकार ने दावा किया है। इन हालातों में किसानों के साथ-साथ कांग्रेस ने भी अलग-अलग उपार्जन केंद्रों में व्यवस्थाओं के लिए प्रभारियों की नियुक्ति की है। जिला सहकारी बैंक के प्रबंधक आरबी सिंह ने बताया कि अगले हफ्ते से नियमित और निर्बाध रूप से धान खरीदी शुरू हो जाएगी, जिसके बाद किसानों को कोई परेशानी नहीं होगी।

32913 किसानों में से सिर्फ 104 ने बेचा धान

बस्तर जिले में इस साल कुल 32913 किसानों ने अपना पंजीयन करवाया है, ताकि वे अपनी फसल का धान बेच सकें। इनमें से अब तक 104 किसानों ने 4703.04 क्विंटल धान केंद्रों में बेचा है। जबकि शनिवार को किसी भी केंद्र में धान खरीदी नहीं हो पाई। इस साल का लक्ष्य 54518.23 हेक्टेयर रकबे में पैदा किया गया धान खरीदने का है, जिसमें 35199.60 क्विंटल मोटा और 11830.80 क्विंटल पतला धान खरीदा जाना है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
जगदलपुर। ब्लाक के धान खरीदी केंद्र में किसानों का धान तौलता हमला।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3mQn8QW

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages