�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Saturday, December 26, 2020

अजनाला में एनजीओ के 7 मेंबरों ने दुकान से युवक को जबरन उठा कार में डाला, दुकानदारों ने बचाया

यहां इलेक्ट्राॅनिक की दुकान पर काम करने वाले एक युवक को कुछ लोगों ने किडनैप करने का प्रयास किया। युवक को जबरन उठाकर अपनी कार में ले जा रहे इन लोगों को बाकी दुकानदारों की मदद से पकड़ा गया। दुकानदारों ने सभी आरोपियों को पुलिस के हवाले कर दिया।

आरोपियों ने खुद को ‘भारतीय समाजसेवा संस्था’ नामक एनजीओ का मेंबर बताया और कहा कि वह युवक को उसी की पत्नी की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कराने के लिए थाने ले जा रहे थे।


पुलिस ने इलेक्ट्राॅनिक शॉप के मालिक की शिकायत पर एनजीओ के मेंबरों सहित 6 लोगों पर बाॅयनेम और उनके एक अज्ञात साथी के खिलाफ साजिशन किडनैपिंग के आरोप में केस दर्ज कर लिया। नामजद किए गए 6 आरोपियों में खुद को एनजीओ का मेंबर बताने वाली नीतू अरोड़ा, सोनिया, बलबीर सिंह, भूपिंदर सिंह, शमिंदर अरोड़ा और युवक की पत्नी हरप्रीत कौर शामिल है।

शिवम सरीन की ओर से पुलिस को दी गई शिकायत के मुताबिक, उसकी अजनाला चौक में ‘राजा इलेक्ट्राॅनिक’ नाम से दुकान है। उनके मामा युवराज चड्‌ढा निवासी पंजाब एवेन्यू (अमृतसर) भी इसी दुकान पर काम करते हैं। 25 दिसंबर को दोपहर तकरीबन ढाई बजे एक कार उनकी दुकान के बाहर पहुंची। कार के आगे हिंदी में ‘भारतीय समाजसेवा संस्था’ लिखा कागज लगा था।

कार से 2 औरतें और 3 आदमी उतरे जिन्होंने अपने नाम नीतू अरोड़ा, सोनिया, बलबीर सिंह, भूपिंदर सिंह और शमिंदर अरोड़ा बताया। पांचों ने दुकान के काउंटर पर पहुंचकर उनसे पूछा कि युवराज चड्‌ढा कौन है? इस पर वहीं बैठे उनके मामा ने कहा कि युवराज चड्‌ढा मेरा ही नाम है। इस पर आरोपियों ने कहा कि उसकी पत्नी हरप्रीत कौर ने उनके एनजीओ को उसके खिलाफ शिकायत देकर पर्चा दर्ज कराने को कहा है इसलिए वह उनके साथ थाने चले।

शिकायतकर्ता के मुताबिक जब युवराज चड्‌ढा ने साथ जाने से इनकार किया तो आरोपियों ने गाली-गलौच शुरू कर दी और कहा कि उसकी पत्नी की ओर से वह पर्चा दर्ज करवाकर उसे अंदर करवाएंगे। जब युवराज साथ चलने को तैयार नहीं हुआ तो आरोपियों ने उसे जबरन घसीटते हुए अपनी कार में बैठा लिया और ड्राइवर ने कार भगाने की कोशिश की।

शिवम के अनुसार, अपने मामा को किडनैप होते देखकर उसने शोर मचा दिया। बाजार में भीड़ होने की वजह से आरोपी निकल नहीं पाए और उसी दौरान हरजिंदर कुमार और दूसरे दुकानदारों ने जमा होकर कार का रास्ता रोक दिया। इसके बाद पुलिस बुला ली गई।

शिकायतकर्ता शिवम सरीन के मुताबिक आरोपियों ने दिनदहाड़े उसके मामा को किडनैप करने का प्रयास किया है।

एक साल पहले बना एनजीओ लखनऊ में रजिस्टर्ड...खरड़ में खोल रखा है दफ्तर, 4 महीने पहले बनाए गए ओहदेदारों में पति-पत्नी भी शामिल

मामले की जांच कर रहे अजनाला थाने के एएसआई सुखजीत सिंह के मुताबिक, शुरुआती इन्वेस्टिगेशन में पता चला है कि सभी आरोपी खरड़ के रहने वाले हैं और अपना एनजीओ लखनऊ में रजिस्टर्ड बता रहे हैं। पंजाब में उन्होंने एनजीओ का एक दफ्तर खरड़ में खोल रखा है।

यह एनजीओ तकरीबन एक साल पहले ही बनाया गया और चार महीने पहले इसके ओहदेदार बनाए गए थे। इनमें से कुछ ओहदेदार पति-पत्नी हैं तो किसी को कारोबारी एसोसिएशन और किसी को किसान मोर्चा का प्रधान बना रखा है।

युवराज चड्‌ढा और उसकी पत्नी हरप्रीत कौर के बीच झगड़ा चल रहा है और उनका केस कोर्ट में विचाराधीन है। एनजीओ का एक सदस्य हरप्रीत कौर का रिश्तेदार बताया जा रहा है। आरोपियों ने युवराज चड्‌ढा के पास जाने से पहले अजनाला के डीएसपी या एसएचओ को भी कोई सूचना नहीं दी थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
7 members of NGO in Ajnala forcibly picked up the young man from the shop and put him in the car, shopkeepers saved


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3hkaPdy

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages