�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Wednesday, December 23, 2020

81 साल पहले लगा था घंटा, 18 साल पहले घड़ी बदली, 6 साल से बंद

शहर का दिल कहा जाने वाले घंटाघर पिछले 6 सालों से बंद है। लेकिन नगर निगम और प्रशासन द्वारा इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। जिसके चलते घंटाघर की सुइयां व इमारत भी खस्ताहाल हो गई है। किसी समय इसी घंटाघर की आवाज से पूरा शहर समय का अंदाजा लगाता था, लेकिन 6 वर्षों से घड़ी बंद होने के कारण किसी ने इसे सही करवाने की जहमत नहीं उठाई।

घंटाघर के निकट स्थित दुकानदार व वरिष्ठ कांग्रेसी वर्कर युधिष्ठिर गक्खड़ ने बताया कि अबोहर में घंटाघर की इमारत का निर्माण इंग्लैंड की महारानी विक्टोरिया ने अपने 60 वर्ष के राज्य का कार्यकाल पूरा होने पर 1897 में करवाया था। इस घंटाघर पर लगे पत्थर पर इसका नाम केसरगंज लिखा हुआ है। लेकिन इसके ऊपर घड़ी 1939 में लगवाई गई थी, जो मेड इन इंग्लैंड थी। उस समय हर सप्ताह घड़ी की चाबी भरी जाती थी, जो वह भरते थे। लेकिन इसी बीच किसी कारणवश घड़ी खराब हो गई। 2002 में एक पार्षद द्वारा घड़ी में लगी पित्तल को बेच दिया गया और उसे खुर्दबुर्द कर दिया। इसके बाद 6 साल तक घड़ी बंद रही। लेकिन 2008 में नगर परिषद में अकाली-भाजपा का बोर्ड बनने पर प्रधान शिवराज गोयल ने घंटाघर पर इलेक्ट्रॉनिकल घड़ी लगवाई गई। जिसे महाराष्ट्र से आए एक मैकेनिक ने लगाया था।

1939 में लगी घड़ी को चाबी देते थेे युधिष्ठिर गक्खड़
युधिष्ठिर गक्खड़ ने बताया कि घंटाघर में 1939 में घड़ी लगी थी, जिसे वह सप्ताह बाद चाबी दिया करते थे। घड़ी खराब होने पर 2002 में भाजपा शासन के दौरान लगाई गई नई घड़ी करीब 6 साल तक ही सही चली और बाद में इसकी मरम्मत न होने से यह फिर रुक गई।

डिजाइन स्टेज पर है, जल्द ही देंगे सुंदर रूप : कमिश्नर
नगर निगम कमिश्नर अभिजीत कपलिश ने कहा कि अभी उनके पास ऐसी कोई ग्रांट नहीं है। उन्होंने कहा कि ये प्रोसेस डिजाइन स्टेज पर है। इसके अलावा वे एक्सपर्ट से बात कर रहे हैं और जल्द ही घंटाघर में लगी घड़ी को सही करवा दिया जाएगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Hour was 81 years ago, clock changed 18 years ago, stopped for 6 years


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/37Mcvcs

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages