�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Wednesday, December 9, 2020

एक पालिका एवं चार नगर पंचायतों के पास मात्र दो कंडम फायर ब्रिगेड

नगर पंचायत की दमकल दम तोड़ चुकी है। उसके बाद भी उस पर दो जिलों का भार दे दिया गया है। एक दशक पहले खरीदी गई नगर पंचायत की दमकल बिल्कुल जर्जर हो चुकी है। कुछ दूरी का सफर तय करने के बाद उसमें हजारों रुपए मरम्मत के नाम पर खर्च करना पड़ता है। शहर से पानी भरकर आग बुझाने वाली जगह तक पहुुंचने मे दमकल को घंटों का समय लग जाता है। साथ ही पानी भी उसमे ना के बराबर बच पाता है।
पूरे जिले मे दमकल को लेकर अव्यवस्था चल रही है। एक नगर पालिका के अलावा चार नगर पंचायतों के पास मात्र दो दमकल है। जिसके कारण इन दोनों ही जगह की दमकलों को आवश्यकता पड़ने पर लंबी दूरी का सफर तय करना पड़ता है। दरअसल पत्थलगांव नगर पंचायत में दमकल रहने के अलावा नगर पालिका जशपुर में एक दमकल मौजूद है। इसके अलावा कोतबा, कुनकुरी, बगीचा नगर पंचायत मे आज तक दमकल की सुविधा नहीं है। इन जगहों पर आगजनी जैसी घटना होने पर पत्थलगांव से दमकल की सुविधा ली जाती है। लेकिन दमकल की स्थिति बेहद जर्जर होने के कारण आगजनी के स्थान पर उसके पहुंचने से फायदा कम शासकीय नुकसान ज्यादा होता है। यहां के नगर पंचायत की बात करें तो एक दशक से भी पहले दमकल की खरीदी की गई थी, जो अब बेहद जर्जर हो चुकी है। ऐसी हालत में उसे दो जिले की आपात व्यवस्था संभालनी पड़ रही है। जानकारी के अनुसार नगर पंचायत की दमकल को जशपुर जिले के अलावा रायगढ़ जिले में भी इस्तेमाल किया जाता है।

शासन से की गई है मांग
नगर पंचायत के उपाध्यक्ष श्यामनारायण गुप्ता ने बताया कि जिले के अधिकांश गांव मे आगजनी की घटना होने के बाद नगर पंचायत पत्थलगांव से ही दमकल की सुविधा भेजी जाती है। यहां की नगर पंचायत में मौजूद दमकल काफी जर्जर हालत में है। ऐसी स्थिति को देखकर अब नगर पंचायत की ओर से नई दमकल के लिए शासन के पास प्रस्ताव भेजकर मांग पत्र बनाया गया है। उन्होंने बताया कि नगर पंचायत की दमकल को दूसरे ब्लाॅक के गावं में भेजने के अलावा नेताओं के आगमन पर भी दूर-दराज तक भेजकर सुविधा पहुंचाई जाती है। परंतु दमकल की हालत जर्जर रहने से मरम्मत का खर्च अधिक हो रहा है।

दमकल से ज्यादी कीमत मरम्मत में खर्च
नगर पंचायत की दमकल को दूर-दराज की जगहों में नेताओं के आगमन पर भी बुलाया जाता है। जिसे भेजने के बाद उसमे मरम्मत का भारी भरकम खर्च उठाना पड़ता है। यहां के नगर पंचायत में दमकल पर हुई मरम्मत में खर्च के बिलों का हिसाब निकाला जाए तो दमकल से अधिक कीमत उसके रख-रखाव एवं मरम्मत के नाम पर खर्च किए जा चुके है। ऐसी स्थिति मे नगर पंचायत को अब नई दमकल की खरीदी कर लेनी चाहिए। बताया जाता है कि रायगढ जिले के बाकारूमा, लैलूंगा, धरमजयगढ़ जैसी जगहों में भी नगर पंचायत से ही दमकल की सुविधा ली जाती है। पिछले साल धरमजयगढ़ के बायसी काॅलोनी मे दुर्घटना के बाद एक वाहन में आगजनी की घटना होने पर शहर की दमकल ने जाकर वाहन की आग बुझायी थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Only two condom fire brigades near one municipality and four nagar panchayats


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2KbZ501

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages