�� Online shopping Info �� All types of letest tech Info update is provided hare (tech,shopping,auto,movie,products,health,general,social,media,sport etc.) Online products Shopping

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Tuesday, December 22, 2020

अवैध कॉलोनी में आशियाना बसाने वालों को सस्ते फ्लैट देने में नाकाम रहे जेआईटी और जेडीए

सिटी में लोगों का सस्ते आशियाना का सपना पूरा करने में नाकाम रही जालंधर डेवलपमेंट अथॉरिटी (जेडीए) और जालंधर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट (जेआईटी) महानगर की तर्ज पर फ्लैट स्कीम उपलब्ध कराने में भी सफल नहीं हो पाया है। 10 साल में ट्रस्ट और जेडीए कोई भी फ्लैटों वाली हाउसिंग स्कीम देने में कामयाब नहीं हुआ। उससे पहले के दशक में इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ने जो दो बड़ी स्कीम तैयार कीं वो भी 12 वर्षों से अधर में फंसी हैं। कमजोर योजना और निर्माण में कई तरह की खामियों के कारण लाखों रुपए खर्च कर फ्लैट खरीदने वाले भी यहां रहने को राजी नहीं हैं।
इसी का उदाहरण है कि 888 एलआईजी फ्लैट वाले इंद्रापुरम और 278 फ्लैट वाले बीबी भानी कांप्लेक्स में गिनती के परिवार रह रहे हैं, वो भी अलॉटी ने किराये पर दे रखे हैं। कारण इंद्रापुरम परिसर में जाने को महज 11 फुट रास्ता होने के कारण अलॉटी अब तक अपना घर नहीं बना सके, वहीं पानी, सीवरेज और बिजली कनेक्शन सहित आधे-अधूरे निर्माण के कारण बीबी भानी कांप्लेक्स के अलॉटी अब तक शिफ्ट नहीं हो पाए हैं। वहीं जेडीए और जेआईटी ने डीलक्स फ्लैट्स के दो नए प्रोजेक्ट भी लांच किए थे। इसके अधीन 609 फ्लैट बनने थे। हालांकि ये प्रोजेक्ट भी सुपर फ्लॉप साबित हुए।

जेडीए ने 90 लाख रुपए रखी थी डीलक्स फ्लैट की कीमत, प्रपोजल, ड्राइंग और प्रचार में ही खर्च दिए 2 करोड़, फिर भी नहीं मिले खरीदार

छोटे फ्लैट की प्लानिंग ठप, अफॉर्डेबल हाउसिंग स्कीम फाइलों में
इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ने डीलक्स फ्लैट का प्रोजेक्ट फेल होने के एक साल बाद सिटी में डिमांड सर्वे कर 800 एमआईजी और एलआईजी फ्लैट की योजना तैयार की थी, लेकिन वो भी बाद में ठप हो गई। कोरोना काल में ही पंजाब सरकार ने सभी इंप्रूवमेंट ट्रस्ट को लोगों को सस्ता घर मुहैया कराने के लिए अफोर्डेबल हाउस स्कीम लांच करने को कहा था। सांसद चौधरी संतोख सिंह को साथ लेकर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ने स्कीम लांच करने की घोषणा भी कर दी, लेकिन अब भी प्रोजेक्ट के लिए न जमीन का चयन हुआ और न ही कोई प्रोजेक्ट सिरे चढ़ा है।

ट्रस्ट की फेल स्कीम पर 200 अलॉटी कर चुके हैं केस
इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के इंद्रापुरम और बीबी भानी कांप्लेक्स के करीब 200 अलॉटी अपनी रकम ब्याज सहित वापस लेने के लिए अब तक केस कर चुके हैं। अधिकांश केस कंज्यूमर फोरम में हुए हैं, जिसमें स्टेट से लेकर नेशनल तक इंप्रूवमेंट ट्रस्ट केस हारने के बाद दर्जनों अलॉटी को ब्याज और मुआवजा के साथ रकम वापस कर चुका है। खास बात है कि इसमें 100 से ज्यादा केस में तो ट्रस्ट के ईओ और चेयरमैन के नाम जमानती और गैर-जमानती वारंट जारी होने के साथ ट्रस्ट की प्रापर्टी अटैच करने के आदेश हो चुका है।

दोनों विभागों के पास फ्लैट स्कीम की चंक साइट, लेकिन नहीं मिल रहे खरीददार

इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के चेयरमैन दलजीत सिंह आहलुवालिया का कहना है कि इंद्रापुरम में अप्रोच रोड को चौड़ा करने और बीबी भानी कांप्लेक्स में खामियों को दूर करने का प्रयास कर रहे हैं। कई लोगों को फ्लैट का कब्जा भी दिया गया है। इसके साथ ही सूर्या एनक्लेव और एक्सटेंशन में फ्लैट स्कीम के लिए चंक साइट है, जिसे कोई भी खरीदकर प्रोजेक्ट तैयार कर सकता है। उधर, जेडीए के मुख्य प्रशासक करणेश शर्मा का कहना है कि छोटी बारादरी पार्ट-टू में फ्लैट स्कीम के लिए चंक साइट रखी गई है। इसके अलावा 120 फुटी रोड पर भी ऐसी साइट है, जहां फ्लैट स्कीम लांच की जा सकती है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
JIT and JDA failed to give cheap flats to shelter settlers in illegal colony


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3nKs8Xw

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages